Friday, 1 July 2016

अब नहीं चलेगी चीन की 'हीरोपंती'..............

अमेरिका की दो टूक- NSG में हर हाल में शामिल होगा भारत  परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में अमेरिका की लाख कोशि‍शों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भरसक प्रयासों के बावजूद भारत को एंट्री नहीं मिली. चीन के नेतृत्व में सात देशों ने सोल की बैठक में भारत का विरोध किया. इस असफलता के लिए अमेरिका ने
चीन को न सिर्फ खरी-खरी सुनाई है, बल्कि‍ एक हफ्ते के बाद उसने यहां तक कहा कि सिर्फ चीन के कारण हिंदुस्तान एनएसजी का सदस्य नहीं बन पाया.

No comments:

Post a comment